Skincare advantage of tea tree oil | त्वचा की देखभाल करें

टी ट्री ऑयल-tea tree oil

यदि आप हर्बल उत्पादकों के शौकीन है तो आपको जरूरी है इस तेल के बारे में जानने की, सौंदर्य विशेषज्ञों के अनुसार advantage of tea tree oil  हमारे चेहरे और सौंदर्य के लिए काफी फायदेमंद होता हैं।

इसी लिए इसे सौंदर्य के क्षेत्र में all-in-one कहा जाता है

टी ट्री ऑयल,Tea Tree Oil,

https://livecultureofindia.com/advantage-of-tea-tree-oil/

जैसे कि नाम से ही लगता है| tea tree oil इसका संबंध चाय वाले पौधे से होगा या उसके बीजों से यह बनता होगा लेकिन ऐसा है नहीं इस तेल का ब्लैक टी और ग्रीन टी से कोई लेना देना नहीं है। माना जाता है टी ट्री का नाम अठारहवीं शताब्‍दी के नाविकों ने रखा  था,

यह tea tree oil ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में पाया जाता हैं। यह तीन हजार सालों से उत्कृष्ट औषधीय, सौंदर्य और चिकित्सा के नाम से जाना जाता हैं। ऑस्ट्रेलिया के देशी पेड़ मेललेका अल्टरिफोलिया से निकाला जाने वाला तेल है।सौंदर्य विशेषज्ञों के अनुसार टी ट्री ऑयल हमारे चेहरे और सौंदर्य के लिए काफी फायदेमंद होता

हैं इस तेल से जड़ से ठीक होने वाली सभी स्वास्थ्य-संबंधी समस्याओं के अंतिम समाधान के रूप में बताया जाता है। अन्य आवश्यक तेलों की तरह,tea tree oil ने अपने लाभ और उपयोगों से दुनिया भर में अत्यधिक लोकप्रियता प्राप्त की है।

टी ट्री ऑयल को वायरस, बैक्टीरिया और कवक (फंगस) से होने वाले संक्रमण और बीमारियों का इलाज करने के लिए चिकित्सकीय साबित किया गया है। तेल के प्राकृतिक गुण और लाभ ने इसे विभिन्न सौंदर्य और स्वास्थ्य उत्पादों का एक मूल तत्व बना दिया है।

कृपया हमारा यह ब्लॉग और वीडियो भी देखें

गठिया,साइटिका,घरेलू उपचार

कपड़े से बना मास्क MASK कितना बेहतर

अपने घर के मंदिर में पूजा और ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

world oldest religious Temple 

उत्तराखण्ड के पहाड़ी गांव का रहन सहन

सिंपल वेज बिरयानी रेसिपी 

Documentary Film Chopta Tungnath 

चेहरे पर मुहांसों के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है यदि हम इस तेल को डेली यूज करें यह न केवल आपकी त्वचा को स्वस्थ रखेगा, बल्कि आपके बालों और स्वास्थ्य से संबंधित कई बीमारियों से भी निजात दिला सकता है।tea tree oil

स्किनकेयर के लिए टी ट्री ऑयल का उपयोग और लाभ-advantage of tea tree oil

1-टी ट्री ऑयल(tea tree oil) में बेंजायल पेरोक्साइड, जीवाणुरोधी, और एंटीमाइक्रोबायल तत्व पाए जाते हैं जिससे मुंहासे के उपचार में यह सही सिद्ध होता है| ये न केवल त्वचा पर तुरन्त निकले हुए मुँहासे को ठीक कर देता है बल्कि दुबारा मुँहासे निकलने से भी रोकता है। ब्यूटी प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनियां अपने ब्यूटी प्रोडक्ट में इस तेल का उपयोग करती हैं।

2-मॉइस्चराइज-

टी ट्री ऑयल,(Tea Tree Oil) रूखी सूखी त्वचा को कोमल बनाने में बहुत उपयोगी होता है| आप अपने पंसद के किसी भी तेल में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें मिला लें और इस मिश्रण से आप अपनी त्वचा को मसाज करें और मॉइस्चराइज पायें,

4- चमकती त्वचा-

टी ट्री ऑयल स्वस्थ और चमकदार त्वचा के लिए प्राकृतिक गुणों से भरपूर है। किसी भी तेल में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें मिला लें और इस मिश्रण से आप अपनी त्वचा को मसाज कर सकते हैं।

5- ब्लैकहेड्स हटाना-

टी ट्री ऑयलtea tree oil मैं मौजूद एंटीमिक्राबियल गुण न केवल कील मुँहासे ठीक करने में मदद करता हैं बल्कि काले दाग धब्बों को हटाने में भी मदद करते हैं। मुल्तानी मिट्टी में इस तेल की कुछ बूंदें और थोड़ा पानी डालें और गाढ़ा पेस्ट बनाएं। इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाएं और सूखने के बाद इसे पानी से पोंछ लें।

6-घावों के लिए-

टी ट्री ऑयल एक चमत्कारी एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी लक्षणों के लिए भी जाना जाता है। यह घावों को ठीक करने में मदद करता है और खरोंच लगने, कटने और जलने से होने वाले किसी भी प्रकार के संक्रमण को रोकता है। टी ट्री ऑयल की एक बूंद को एक चम्मच नारियल के तेल में मिलाएं। घाव पर इसे लगाएं,

7-तन की दुर्गंध के लिए-

टी ट्री ऑयल में एंटीमिक्राबियल बैक्टीरिया पाया जाता है जिस के कारण शरीर से आने वाली गंध को कम करने में मदद करता है। यह तेल बैक्टीरिया को मारता है जो शरीर की गंध का मुख्या कारण बनता है।

8-खुजली में राहत-

टी ट्री ऑयल चिकनपॉक्स, कीड़े-मकोड़े काटने के कारण त्वचा में सूजन और खुजली को कम करने में मदद करता है। नारियल या बादाम के तेल के साथ यदि इस टी ट्री ऑयल मिलाएं इससे खुजली की समस्या को कम करता है। टी ट्री ऑयल चिकनपॉक्स के कारण अत्यधिक होने वाली खुजली और दाग धब्बों को कम करता है।

9-दाद का इलाज-

इस तेल में एंटीफंगल गुण होने के करण जो आसानी से दाद को ठीक करने में मदद करते हैं।आप रूई की मदद से इसे उस जगह पर लगाएं आप इसे दिन में दो तीन बार करें,

10-मस्सों को रोके-

टी ट्री ऑयल में जीवाणुरोधी, एंटीफंगल और एंटीवायरल विशेषताएं होने के करण ये शरीर पर किसी भी प्रकार के मस्से को रोकने में मदद करती हैं। यह तेल दर्द, लालिमा, और मस्सों के कारण होने वाली सूजन को कम कर देता है। यह तेल मस्सों के सूखने में बहुत मदद करता है।

11-नेल फंगस का इलाज-

टी ट्री ऑयल नाखूनों में होने वाले संक्रमण से छुटकारा दिलाने में सहायक होता है। नारियल के तेल में बस इस तेल की कुछ बूंदें डालें और इसे संक्रमण वाले नेल के उपर लगाएं। इस को दिन में दो बार अपनाएं।

12-बर्न्स (जले) के निशान-

टी ट्री ऑयल बर्न्स को कम करने और निशान को जड़ से खत्म करने वाले गुणों से परिपूर्ण होता है। शहद में इस तेल की कुछ बूंदों को मिलाकर बर्न्स वाली जगह पर लगाने से आराम मिलेगा। यह दर्द को कम करता है और उपचार प्रक्रिया से इसमें सुधार होता है।

बालों के लिए टी ट्री ऑयल (Tea Tree Oil), का फायदा

1. डैंड्रफ-

टी ट्री ऑयल(Tea Tree Oil) डैंड्रफ का इलाज करने के लिए एक सुंदर उपाय है। टी ट्री ऑयल इसमें पाए जाने वाले प्रभावी एंटीफंगल और जड़ से खत्म करने वाले गुण डैंड्रफ की समस्या से निपटने के लिए एक उचित विकल्प है।

यह सिर को मॉइस्चराइज भी करता है बल्कि यह खुजली और फ्लेकिंग से बचाता है।तेल की मालिश: नारियल या बदाम का तेल में और टी ट्री ऑयल की 5-7 बूंदों को एक साथ मिलाएं। इस तेल को अपने बालों की जडो और बालों पर लगाएं

2. बालों को बढ़ाये-

टी ट्री आयल (tea tree oil)की जीवाणुरोधी विशेषताएं बालों को गिरने से रोकती हैं और बालों की जड़ों को पोषण प्रदान करती हैं जिससे बालों में विकास होता है।और बालों की ग्रोथ बढने लगती है तेल में टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें डालें और इसे अपने सिर पर मालिश करें।

3.खुजली और रूखेपन-

टी ट्री आयल(tea tree oil) सिर में होने वाली खुजली और रूखेपन को रोकता है। यह स्थिति सिर में बैक्टीरिया और एलर्जी के कारण हो सकती है। इस तेल में ये एंटीसेप्टिक गुण होते हाँ जिससे सिर में होने वाली खुजली को धीरे धीरे खतम कर देता है। शैम्पू में आप टी ट्री की कुछ बुंदे डाल कर रूसी से छुटकारा पा सकते हैं।

नोट-  टी ट्री ऑयल को बच्चों के मुंह, आंख और नाक में न जाने दें।