कोरोना से बचाव केआसान उपाय | 7 ways to protect from corona

कोरोना से बचाव में आयुर्वेद

Corona वैश्विक महामारी के रूप मे फैला है जिसने बड़े बड़े देशों के हाथ खड़े कर दिये लेकिन आश्चर्य की बात की कोरोना से बचाव में आयुर्वेदिक अनुसार दिनचर्या का पालन करने वाले और योगियों पे इसका जादा असर नहीं हुआ। इससे सिद्ध होता है कि आयुर्वेद हमारे देश की एक अमूल्य धरोहर है जिसका ठीक से उपयोग करने पे न सिर्फ कोरोना बल्कि कही भयानक रोगों से भी बचा जा सकता है और कोई रोग हुआ हो तो उससे नष्ट भी किया जा सकता है।

https://livecultureofindia.com/कोरोना-से-बचाव-आसान-उपाय/

कोरोना का स्वरूप

कोरोना से बचाव यह एक वयरस जन्य संकर्मित रोग है जो एक से दूसरे ब्यक्ति मे तेजी से फैलता है। श्वास नाल इसका प्रमुख क्षेत्र है इसलिए दम घुटना इसका प्रमुख लक्षण है। श्वास काठिन्य के साथ श्वास को रोकना मुश्किल हो जाता है इसलिए रोगी तेजी से श्वास लेता है वह भी इतना तेज की 10सेकंड से जादा वो श्वास को रोक नही सकता।

बाकी जुकाम बुखार इसके अन्य लक्षण हैं। क्योंकि इसमे दम घुटता है इसलिए शीघ्र उपचार न होना जानलेवा होता है। यध्यपि ये लक्षण अन्य रोगों मे भी होते हैं लेकिन कोरोना वयरस जनित ये लक्षण शीघ्र प्रणो का नाश करता है इसलिए ये अधिक जानलेवा है। इन लक्षणों से युक्त पुरुष को कोरोना ही हो ये जरूरी नहीं है इसके लिए परिक्षण जरूरी है।

https://livecultureofindia.com/कोरोना-से-बचाव-आसान-उपाय/

आप इन्हें भी पढ़ सकते हैं और वीडियो भी सकते हैं

रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के आसान उपाय

लहसुन खाने के फायदे

इन 5 नमक में से आपके लिए कौन सा नमक फायदेमंद 

उत्तराखंड पहाड़ों में कैसे रहते हैं Documentary film

कोरोना से बचाव के उपाय-7 ways to protect from corona

कोरोना से बचाव  यदि आप इस वैश्विक महामारी में इन 7 उपायों का सही ढंग से पालन करते हैं तो आप कई हद तक सुरक्षित रह सकते हैं

1-कोरोना से बचाव में योग एवं प्राणायम

योग एवं प्राणायम सबसे प्रमुख लाभकारी उपाय है। प्रनायाम से जिनका प्राण बल जादा मजबूत है उनको कोरोना नहीं होगा या वह कोरोना से आसानी से लड सकता है। यदि कोई 30 सेकंड से जादा देर तक श्वास को अंदर या बाहर रोक सकता है तो उसको कोरोना नहीं हो सकता। इसलिए नित्य प्राणायम बहुत लाभकारी है।

2-साफ सफ़ाइ का ख्याल रखना

क्योंकि यह एक संक्रमित रोग है इसलिए शरीर की साफ सफ़ाइ बहुत जरूरी है। नित्य गरम पानी से स्नान के साथ साथ बाहरी सम्पर्क होने पे साबुन से हाथ धोना जरूरी है।

3-मास्क

क्योंकि कोरोना वायरस श्वास नलि से शरीर मे प्रवेश करता है इसलिए शरीर मे प्रवेश रोकने के लिए साफ मास्क जरूरी है।

4-Immune booster प्रयोग

अदरक का नियमित प्रयोग शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। इसे चाय व काढ़ा बनाकर तथा सब्जी में भी प्रयोग किया जा सकता है। इसकी तरह से हर घर में आसानी से मिल जाने वाली तुलसी का भी नियमित सेवन करना कोरोना वायरस से बचने के लिए हितकर है। इसके अलावा भी गिलोय, अश्वगंधा आदि रोगप्रतिरोधक शक्ति immune power बड़ाने के उपाय पूर्व पोस्ट मे बताए गए हैं वे सभी कोरोना मे लाभकारी हैं।

5-कैल्शियम युक्त भोजन

कोरोना बुखार के साथ हड्डी एवं जोड़ो को कमजोर करता है जिसके लिए कैल्शियम युक्त भोजन जैसे दूध, अखरोट, नारियल, मुन्नक्का, बादाम, अनानास आदि लाभकारी हैं। कोरोना होने पे ये लाभ करेंगे ही लेकिन कोरोना न होने पे भी skeletal system को मजबूत करते हैं।

6-आयरन युक्त भोजन

सेब, अनार, पालक, चुकन्दर, निम्बु, द्राक्ष आदि रक्त बर्धक चीजें हैं जिनके सेवन से रक्त की मात्रा एवं circulation सही रहता है। करोना जैसी बीमारी मे जब श्वसावरोध होता है तो तब blood एवं blood circulation का नियंत्रित होना बहुत जरूरी है।इसके अलावा अन्य मिनरल युक्त भोजन का सेवन करना चाहिए।

7-गरम भोजन

कोरोना से बचाव में गरंम् पानी, गरम दूध, चाय, भोजन आदि कोरोना मे लाभकारी हैं क्योंकि गरम आहार संक्रमन नाशक होता है साथ ही इस संक्रमन से उत्पन्न वायु का नाश करता है।

कोरोना से यदि आप ज्यादा गंभीर हो तो सरकारी हेल्पलाइन नंबर और अपने हॉस्पिटल या डॉक्टर से जरुर संपर्क सकें करें

डॉ, मनवर सिंह BAMS
डॉ, मनवर सिंह BAMS

Leave a Reply