उत्तराखंड के ग्राम प्रधानों,आशा कार्यकत्रियों और उपनल कर्मियों का बढ़ाया मानदेय-मुख्यमंत्री धामी

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपने दो दिवसीय जनपद भ्रमण पर हैं भ्रमण के दौरान मुख्यमंत्री धामी ने कहा उत्तराखंड के ग्राम प्रधानों,आशा कार्यकत्रियों और उपनल कर्मियों को हमारी सरकार ने तोहफा दिया मुख्यमंत्री ने कहा ग्राम प्रधानों का मानदेय रू0 1500 से बढाकर 3500, और आशा कार्यकत्रियों को रू0 3500 से बढ़ाकर 6500, उपनल कर्मियों की मांग मानते हुये दस साल की सेवा पूर्ण करने वाले कर्मचारियों को मानदेय में रूपया 2000 व दस वर्ष से अधिक सेवा पूर्ण करने वाले कर्मचारियों को रूपया 3000 देने का काम सरकार द्वारा किया गया है। उन्होने कहा कि सरकार द्वारा लगातार सभी के लिये कुछ ना कुछ रास्ता निकाला जा रहा है जिसके लिये सब लोगों का साथ बहुत जरूरी है। उन्होने कहा कि प्रत्येक न्यायपंचायत स्तर युवाओं के लिये ओपन जिम खोला जायेगा जिससे की हमारे युवा स्वस्थ व निरोग्य रहे।

मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि प्रदेश के समग्र विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा अनेक कदम उठाए जा रहे हैं। सभी वर्गों को ध्यान में रखते हुए कार्य हो रहे हैं। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार का राज्य को पूरा सहयोग मिल रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कहा कि सरकार प्रत्येक जनमानस के साथ हर दुखसुख में खड़ी है। उन्होने कहा कि सरकार प्रत्येक व्यक्ति के हित के बारे में लगातार विकास कार्यो कर रही है।

इन्हें भी पढ़ें-

शिवलिंग की महत्ता उनकी रचना और रूपों का निर्माण

Natural Protein Facial Peck for Dry Skin | नेचुरल फेस पेक

दिल को रखें फिट रखने के लिए अपने खाने की डाइट में इन्हें शामिल करें

उन्होने कहा कि खटीमा नागरिक चिकित्सालय में एक हजार एलपीएम का आॅक्सीजन प्लांट लगा दिया गया है व पुराना अस्पताल में अस्थाई सैनिक कैन्टीन बनाया जा रहा है, जिसे आगामी माह नवम्बर तक संचालित कर दिया जायेगा। उन्होने कहा कि खटीमा में बस अड्डा निर्माण, खटीमा बाईपास निर्माण, एकलव्य विद्यालय निर्माण, राजकीय आश्रम पद्धति जनजाति स्कूल, शहीद स्मारक एवं मण्डी में धान क्रय केन्द्रों का औचक निरीक्षण कर सम्बन्धित अधिकारियों व कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया गया है कि कार्यो में तेजी लाते हुये शीघ्र कार्य पूर्ण करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं की मजबूती के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। आयुष्मान योजना के तहत निःशुल्क ईलाज व 207 प्रकार की जांचे निःशुल्क की जा रही हैं। कोविड19 संक्रमण के दौरान अनाथ हुये बच्चों के लिये वात्सल्य योजना के तहत तीन हजार रूपया प्रत्येक बच्चे को दिया जा रहा है व बच्चे को बड़े होने पर पांच प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था की गई है। बहनों एवं नवजात कन्याओं को महालक्ष्मी किट प्रदान की जा रही है।

इन्हें भी पढ़ें-

छठ पूजा में किन की पूजा होती और कैसे मनाते हैं

Deepawali 2021 | दिवाली में लक्ष्मी पूजा शुभ मुहूर्त

चम्बा उत्तराखंड का खुबसूरत पर्यटक स्थल में से एक है

अपने घर के मंदिर में पूजा और ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

उन्होने कहा कि प्रत्येक न्यायपंचायत स्तर युवाओं के लिये ओपन जिम खोला जायेगा जिससे की हमारे युवा स्वस्थ व निरोग्य रहे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने मगरमछ के हमले से मृत्यु होने के कारण मृतक के परिजन श्रीमती लक्ष्मी देवी को तीन लाख रूपये का चैक अर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किया। इस अवसर पर विधायक डा प्रेम सिंह राणा, कैलाश चन्द्र गहतोड़ी, उपाध्यक्ष किसान आयोग राजपाल सिंह, अध्यक्ष किच्छा मण्डी समिति कमलेन्द्र सेमवाल, अध्यक्ष मण्डी समिति खटीमा नन्दन सिंह खड़ायत, जिलाधिकारी श्रीमती रंजना राजगुरू, एसएसपी दलीप सिंह कुवंर, मुख्य विकास अधिकारी आशीष भटगांई, उप जिलाधिकारी निर्मला बिष्ट, तुषार सैनी, जनप्रतिनिधि मोहनी देवी, उर्मिला, माया जोशी, सतीश गोयल, अजय मौर्या, नवीन चन्द्र, गोविन्द, किशन, खुब सिंह विकल, तेज सिंह मेहरा, पूजा बत्रा, प्रियंका आदि उपस्थित थे।

Documentary film 

village life Uttarakhand India part 5

Documentary on how people of Uttarakhand live in village

Leave a Reply