उत्तराखंड मुख्यमंत्री ने लिया चमोली रुद्रप्रयाग में कोविड-19 की तैयारी का जायजा

उत्तराखंड मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत आज 15मई चमोली रुद्रप्रयाग के दौरे पर गए ,जहाँ पहले मुख्यमंत्री जिला अस्पताल गोपेश्वर पहुंचे चिकित्सकों व स्टाफ से कोविड-19 को लेकर जानकारी ली।

गोपेश्वर जिला अस्पताल में लगाये जा रहे ऑक्सीजन जनरेशन प्लांट (इस प्लांट के बारे में जाने) का और कोविड सेंटर की व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया

 https://livecultureofindia.com/national-राष्ट्रीय-news/उत्तराखंड-मुख्यमंत्री-का-covid-19-visit/ ‎
उत्तराखंड मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड की रोकथाम के लिए हम सभी संशाधन जुटा रहे है। 18 से 44 वर्ष के नागरिकों को कोविड-19 टीकाकरण का निरीक्षण करने गोपेश्वर पीजी कालेज में भी गये, उन्होंने चिकित्सकों व स्टाफ से कोविड-19 को लेकर जानकारी ली।

उसके बाद मुख्यमंत्री रुद्रप्रयाग पहुंचे, उन्होंने जनपद रुद्रप्रयाग के कोटेश्वर स्थित माधवाश्रम कोविड सेंटर व जिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया निरीक्षण के समय उनके साथ मंत्री डॉ. धन सिंह रावत और विधायक मनोज रावत भी साथ में थे,

इस दौरान वहां भर्ती कोविड मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। और स्टाफ को बताया प्रदेश में पर्याप्त संख्या में ऑक्सीजन बेड, वैंटीलेटर, पीपीई किट एवं अन्य आवश्यक संसाधन उपलब्ध हैं। राज्य में ऑक्सीजन की कमी नहीं है, इसके लिए सभी जिलों में ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं।

https://livecultureofindia.com/national-राष्ट्रीय-news/उत्तराखंड-मुख्यमंत्री-का-covid-19-visit/
इस दौरान मुख्यमंत्री ने करोना से निपटने के लिए अधिकारियों को जरूरी निर्देश भी दिए, इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि प्राथमिक उपचार के लिए हमने दवाइयों का किट शुरू कर दिया है,
इसमें आशा वर्कर और आंगनवाड़ी के द्वारा इन दवाइयों के किटों को घर घर पहुंचाने का काम भी हमने शुरू कर दिया है, यदि प्रथम इलाज वहीं पर हो जाए तो उनको हॉस्पिटलों की जरूरत शायद कम पड़े,
और कहा साथ में गांव वालों को समझाने की जरूरत है, कई लोग टेस्ट कराने से घबरा और डर रहे हैं, हमें उन को जागरूक करना होगा, उस डर को निकालना होगा उनको बताना होगा समय पर बीमारी का पता चल जाय इलाज हो जाए तो हम इस लड़ाई में आसानी से जीत सकते हैं,
हमने इसमें सरकारी संस्था, ग्राम प्रधान, सामाजिक संस्था, और कई अन्य संस्थाओं, मिलकर ये कम करेंगे, टेस्टिंग हमारे यहां अन्य प्रदेशों से डेढ़ गुना ज्यादा की जा रही है,साथ ही अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसी भी तरह की आवश्यकता होने पर तत्काल अवगत कराया जाए।
डीआरडीओ के माध्यम से ऋषिकेश व हल्द्वानी में पांच-पांच सौ बेड के अस्पताल अगले कुछ दिनों में बनकर तैयार हो जाएंगे। पूरे प्रदेश में सैंपलिंग की संख्या को भी लगातार बढ़ाया जा रहा है।
हमने पिछले कुछ दिनों में 345 नए चिकित्सकों की नियुक्ति की गई है। मेरा सभी से अनुरोध है कि मास्क पहनने, नियमित हाथ धोने और सामाजिक दूरी का पालन अवश्य करें।

कृपया इन्हें भी पड़ें  

गठिया,साइटिका,घरेलू उपचार

पियें एक गिलास गर्म पानी, दूर करे कई परेशानी

कपड़े से बना मास्क MASK कितना बेहतर

अपने घर के मंदिर में पूजा और ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

world oldest religious Temple 

उत्तराखण्ड के पहाड़ी गांव का रहन सहन

पहाड़ों का लाजवाब आटे वाला दूध का हलवा-tasty halwa recipe

चेहरे से मुंहासे हटाए

वीडियो देखें

culture documentary चक्रव्यूह Chakravyuh