उत्तराखंड चमोली के सीमांत गांव में पहुंची हंस फाउंडेशन कोरोना रक्षक सामाग्री लेकर

उत्तराखंड को कोरोना संक्रमण से बचाने लिए प्रतिबद्ध हंस फाउंडेशन उत्तराखंड के दूरगामी क्षेत्रों में ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर्स,नेबोलाइजंर मशीन,ऑक्सिमीटर,डिजिटल थर्मोमीटर,पीपीई किट,इंफ्रारेड थर्मोमीटर, ऑक्सीजन मास्क,सर्जिकल मास्क,सैनिटाइजर,स्टीमर,बीपी मशीन,गाउन सहित अन्य स्वास्थ्य संबंधि सामाग्री फ्रंट लाइन वर्कर्स,आशा कार्यकर्ताओं,ग्राम प्रधानों और सामुदायिक स्वस्थ्य केंदों के माध्यम से पहुंचा रही है।
गुरूवार को चमोली जिले के थाराली ब्लॉक के सीमांत गांव डुंग्री,रतगांव,बुंगा,रैंस,सवाड़ सहित अन्य गांव के ग्रामीणों तक हंस फाउंडेशन की जीवन रक्षक सामाग्री प्रदान की। चमोली जिले के थराली ब्लॉक के सीमांत गांवों तक पहुंचना आज के समय में किसी चुनौती से कम नहीं है,

 https://livecultureofindia.com/village-life-blog/उत्तराखंड-हंस-फाउंडेशन/ ‎

उत्तराखंड के भूतपूर्व सैनिक एवं सामाजिक संगठन भी हंस फाउंडेशन की सेवाओं में साथ खड़े होकर पहाड़ के दूरगामी क्षेत्रों में बसे गांव तक कोरोना संक्रमण के इस दौर में कदम से कदम मिलाकर सेवाएं दे रहे है।

पौड़ी,चमोली,पिथौरागढ़,टिहरी,चंबा,रूद्रप्रयाग सहित उत्तराखंड के तमाम क्षेत्रों में हंस फाउंडेशन की सेवाओं के साथ बड़ी संख्या में पूर्व सैनिक एवं सामाजिक संगठन ग्रामीणों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए कदम से कदम मिलाकर चल रहे है। इस क्रम में गुरूवार को चमोली जिले के थाराली ब्लॉक के सीमांत गांव डुंग्री,रतगांव,बुंगा,रैंस,सवाड़ सहित अन्य गांव के ग्रामीणों तक हंस फाउंडेशन की जीवन रक्षक सामाग्री प्रदान की,

इन्हें भी पड़ेंउत्तर प्रदेश में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्मार्ट फोन देगी योगी सरकार

उत्तराखंड के ग्रामीण इलाकों में कोरोना की दस्तक के बाद बिगड़ते हालातों पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार की स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ-साथ हंस फाउंडेशन की स्वास्थ्य जीवन रक्षक सामाग्री किसी संजीवनी से कम नहीं है।

इस मौके पर लोक गायक एवं समाजसेवी बीरू जोशी ने बताया कि चमोली जिले के ये गांव बहुत दूरगामी गांव है। इस बारिश के मौसम में इन दूरगामी क्षेत्रों तक पहुंचना किसी चुनौती से कम नहीं है।

न्हें भी पड़ेंकैबिनेट की मंजूरी, किरायेदार-मकान मालिक को मिलेंगे कई अधिकार,Model Tenancy Act

लेकिन माता मंगला जी एवं श्री भोले जी महाराज जी के आशीष और हमारे भूतपूर्व सैनिकों के हौसलों में उड़ान और कुछ कर गुजरने की ख्वाहिश ने हमें हंस फाउंडेशन की सेवाओं को लेकर यहां तक पहुंचाया है। जिसका सफल परिणाम आप यहां के ग्रामीणों की आंखों में खुशी के रूप में देख सकते है।

वीडियो देखें

traditional culture documentary film

कृपया इन्हें भी पड़ें

चम्बा उत्तराखंड का खुबसूरत पर्यटक स्थल में से एक है

शरद पूर्णिमा मां लक्ष्मी किन घरों में आती और खीर का महत्व

गुरुद्वारा दुःखनिवारण साहिब जी पटियाला | 

पहाड़ों की महिलाएं कैसे काम करती-himalayan women lifestyle

Natural Protein Facial Peck for Dry Skin | नेचुरल फेस पेक

gaay ka ghee ke fayde | Amazing Ayurvedic benefits of cow ghee

झटपट 5 मिनट में दही चटनी रेसिपी | tasty curd chutney recipe

दीपावली पूजन में 10 बातों का रखें ध्यान घर में होगी महालक्ष्मी की कृपा

Leave a Reply