भारतीय मजदूर संघ के 35वें त्रैवार्षिक अधिवेशन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा श्रमिकों के योगदान से मिली सकारात्मक ऊर्जा

मुख्यमंत्री योगी बोले-प्रदेश में श्रमिकों की दुर्घटना होने पर 2 लाख और 5 लाख रुपए की स्वास्थ्य बीमा कवर मिलेगा,

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सचिवालय स्थित अपने कार्यालय से भारतीय मजदूर संघ के 35वें त्रैवार्षिक वर्चुअल अधिवेशन को संबोधित किया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय मजदूर संघ को देश का सबसे बड़ा मजदूर संगठन बताया। हमेशा राष्ट्र उद्योग और श्रमिकों के हित में अपनी बात उठाई है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा भारतीय मजदूर संघ से हमारा निरंतर संवाद है मजदूर संघ के सुझाव पर ही हमने प्रदेश के सभी श्रमिकों जिन के साथ कोई दुर्घटना होती है तो उनके परिवार के सदस्यों को 2 लाख रुपए की सामाजिक सुरक्षा देने और सभी श्रमिकों को 5 लाख रुपए की स्वास्थ्य बीमा कवर देने का निर्णय राज्य सरकार ने लिया है।

https://livecultureofindia.com/national-राष्ट्रीय-news/chief-minister-yogi-adityanath/

आज हमारे श्रमिक भाइयों के योगदान से हम लोग सकारात्मक ऊर्जा के साथ आगे बढ़ते हुए दिखाई दे रहे हैं| यह सकारात्मक ऊर्जा जिसमें हमारे सभी श्रमिक भाइयों ने अपना योगदान दिया है|
पिछले साल करोना के दौरान जब पलायन हुआ था तो लगभग 40लाख श्रमिक उत्तर प्रदेश में आए थे,उनकी कैसे सेवा की जाए इसके लिए कोई अन्राय जनीतिक दल नहीं था यह व्यवस्था देखनी थी,

उत्तर प्रदेश बना 05 करोड़ से अधिक टेस्ट करने वाला पहला राज्य,कहा

उस समय भारतीय मजदूर संघ श्रमिकों को सुरक्षित जगह पहुंचाने में अपना योगदान दे रहा था, भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता और आर एस एस के कार्यकर्ता मजदूरों का खाना,उनका स्वास्थ्य उन्हें क्वॉरेंटाइन में रखना  इस कार्य में लगे हुए थे, हमें कामगार और श्रमिक आयोग का गठन करने  इनके हितों को आगे बढ़ाने के लिए सबसे अच्छा सुझाव भारतीय मजदूर संघ ने हीं दिया था

40 लाख श्रमिकों को भरण-पोषण भत्ता और सूखा राशन भी दिया था हम इसे इस साल जून, जुलाई अगस्त के लिए आगे बढ़ाएंगे, जब श्रमिकों का पसीना निकलता है तब राष्ट्र का निर्माण हो पाता है

जहां पूरी दुनिया करोना महामारी से जूझ रही थी  लेकिन इन चुनौतियों में हमारे श्रमिकों ने जो काम किया है वह सराहनीय है|योगी आदित्यनाथ ने पिछले साल 25 मार्च को लॉक डाउन का जिक्र करते हुए कहा उस समय किसानों के हित में कार्य करने के लिए जिससे किसानों का अहित ना हो

UP में बनेगें दूध-सब्जी दुकानदारों के लिए वैक्सीन लगाने का स्पेशल बूथ

इस दौरान भारतीय मजदूर संघ ने कहा कि चीनी मिलें चलनी चाहिए इसके लिए हम आगे आएंगे ,हमने 119 चीनी मिलों को प्रदेश के अंदर सफलता से चलाने में हमें सफलता मिली,

उत्तर प्रदेश 25 करोड़ आबादी के राज्य होने के कारण हमारे पास उस समय PPE kit n95 मस्क,सैनिटाइजर का एक चैलेंज आया था इसको भी हमारेभारतीय मजदूर संघ ने स्वीकार किया, मैं श्रमिकों का अभिनंदन करता हूं इस दौरान उन्होंने कहा हमें परमिशन मिलनी चाहिए रो मैट्रियल मिलना और आज कई राज्यों में हम इसकी सप्लाई करते हैं जिसके कीमत ढाई सौ ₹300 के आसपास है पहले यह 5हजार से 6हजार में आती थी, हमारे श्रमिकों ने जो काम किया है वह सराहनीय है|

कृपया इन्हें भी पड़ें

चम्बा उत्तराखंड का खुबसूरत पर्यटक स्थल में से एक है

शरद पूर्णिमा मां लक्ष्मी किन घरों में आती और खीर का महत्व

गुरुद्वारा दुःखनिवारण साहिब जी पटियाला | Shri Dukh Niwaran Sahib Ji Patiala

पहाड़ों की महिलाएं कैसे काम करती-himalayan women lifestyle

Natural Protein Facial Peck for Dry Skin | नेचुरल फेस पेक

gaay ka ghee ke fayde | Amazing Ayurvedic benefits of cow ghee

झटपट 5 मिनट में दही चटनी रेसिपी | tasty curd chutney recipe

दीपावली पूजन में 10 बातों का रखें ध्यान घर में होगी महालक्ष्मी की कृपा

वीडियो देखें 

Documentary Himalayan women lifestyle