मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दौरा नोएडा और गाजियाबाद

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दौरे पर हैं  वो आज 16 मई गाज़ियाबाद और नोएडा  में थे। इससे पहले मुख्यमंत्री 13 मई 2021 मुख्यमंत्री मथुरा, अलीगढ़ का दौरा कर चुके हैं,सीएम योगी नोएडा ने सेक्टर छह स्थित वैक्सीनेशन सेंटर निरीक्षण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री जी ने मीडिया प्रतिनिधियों के लिए संचालित विशेष टीकाकरण अभियान के लाभार्थियों को वैक्सीनेशन कार्ड वितरित किए।

NTPC सभागार, नोएडा में मीडिया प्रतिनिधियों को सरकार द्वारा कोविड संक्रमण व ब्लैक फंगस के नियंत्रण हेतु ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में संचालित मिशन के विषय में अवगत कराया।और मीडिया प्रतिनिधियों से जागरूकता अभियान चलाने का अनुरोध किया,इस सदी की सबसे बड़ी महामारी कोविड-19 से हमारा देश के साथ-साथ पूरी दुनिया जूझ रही है।

https://livecultureofindia.com/village-life-blog/योगी-आदित्यनाथ-दौरा-नोएड/ ‎

देश में सबसे बड़ी आबादी होने के नाते उत्तर प्रदेश पूरी मजबूती के साथ महामारी के खिलाफ लड़ रहा है। ट्रेस, टेस्ट एंड ट्रीट’ के एग्रेसिव कैंपेन के माध्यम से इस लड़ाई में सकारात्मक परिणाम मिल रहे हैं,

भारत ने फर्स्ट वेव का मुकाबला पूरी मजबूती के साथ किया है और वर्तमान में दूसरी लहर हम सबके सामने चुनौती देते हुए खड़ी है,गौतमबुद्ध नगर में 03 नए ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत हुए हैं। यह प्लांट जनपद को ऑक्सीजन की आपूर्ति के मामले में आत्मनिर्भर बनाएंगे,
प्रदेश के कुछ जगहों पर कोविड-19 पेशेंट्स में ब्लैक फंगस की बीमारी सामने आई है। इससे संबंधित एक एडवाइजरी जारी की है।इस संबंध में वर्चुअल ट्रेनिंग का एक कार्यक्रम जिला हॉस्पिटल के चिकित्सकों, CMO व अन्य के साथ आयोजित किया गया है,

ब्लैक फंगस पर जन जागरूकता का व्यापक अभियान चलना चाहिए। इस बीमारी के उपचार की व्यवस्था हर जनपद में उपलब्ध कराने के लिए तत्परता से कार्य किया जा रहा है, कोविड-19 की थर्ड वेव में बच्चों के चपेट में आने की आशंका व्यक्त की जा रही है।इसलिए हर एक जनपद व मेडिकल कॉलेज में पीडियाट्रिक ICU तैयार करने के लिए कहा गया है,

थर्ड वेव पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने अभी से अपनी कार्य योजना बनानी शुरू कर दी है,हर जिले में प्रशासन को महिलाओं और बच्चों के लिए डेडिकेटेड हॉस्पिटल अभी से तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं।102 की 2,200 एंबुलेंस इमरजेंसी के दौरान महिलाओं और बच्चों के लिए डेडिकेट की गई हैं
प्रदेश में कोविड-19 मरीजों के लिए 1,500 डेडिकेटेड एंबुलेंस तैनात की गई हैं। साथ ही, हमारे पास 350 एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस भी हैं, जिनका उपयोग इस काम के लिए किया जा रहा है,
ग्रामीण इलाकों में संक्रमण से निपटने के लिए सरकार ने व्यापक रणनीति 02 मई से ही प्रारंभ कर दी थी।हर ग्राम पंचायत में निगरानी समितियां बनाई गई हैं।यह सभी स्क्रीनिंग समितियां 97,000 राजस्व गांवों को केंद्र में रखकर स्क्रीनिंग का कार्य कर रही हैं

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा संवेदनशील नेतृत्व में अंत्योदय एवं पात्र गृहस्थी श्रेणी के 15 करोड़ राशनकार्ड धारकों को 03 माह का नि:शुल्क खाद्यान्न उपलब्ध होगा।01 करोड़ पटरी, रेहड़ी और देहाड़ी मजदूरों को ₹1,000 भरण पोषण भत्ता मिलेगा। इस तरह कुल 16 करोड़ लोग को लाभ मिलेगा।

https://livecultureofindia.com/village-life-blog/योगी-आदित्यनाथ-दौरा-नोएड/ ‎

मुख्यमंत्री योगी जनपद गौतमबुद्ध नगर के ग्राम छपरौली के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का स्थलीय निरीक्षण किया।मुख्यमंत्री जी ने इस अवसर पर उपस्थित स्वास्थ्यकर्मियों से वार्ता की।साथ ही, आंगनबाड़ी वर्करों से संवाद भी किया।

कृपया इन्हें भी पड़ें  

लौंग के फायदे in Hindi | 14 Benefits Of Cloves

पियें एक गिलास गर्म पानी, दूर करे कई परेशानी

कपड़े से बना मास्क MASK कितना बेहतर

नारियल की पूजा क्यों की जाती और पोराणिक कथा क्या है जाने,

world oldest religious Temple 

उत्तराखण्ड के पहाड़ी गांव का रहन सहन

सिंपल वेज बिरयानी रेसिपी 

फेशियल के टिप्स

उत्तराखंड पहाड़ों में कैसे रहते हैं documentary film

Leave a Reply