लखीमपुर खीरी में इंटरनेट सेवाएं बंद घटना पर CM योगी ने जताया दुख, कहा दोषियों पर सख्त कार्रवाई होगी बंद

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई घटना के बाद प्रदेश में सियासी पारा चढ़ गया है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर की घटना पर दुख जताया। सरकार इस घटना के कारणों की तह में जाएगी और घटना में शामिल तत्वों को बेनकाब करेगी व दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करेगी यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार, आईजी लक्ष्मी सिंह और अन्य वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पहुंच चुके हैं.

लखीमपुर खीरी में एहतियातन इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं.मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने क्षेत्र के सभी लोगों से अपील की कि वह घरों में रहे और लोगों के बहकावे में ना आएं शांति बनाए रखें,किसी भी प्रकार के निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले मौके पर हो रही जांच और तथ्यों का इंतजार करें,

केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा पर आरोप है कि उन्होंने आंदोलन कर रहे किसानों पर अपनी कार चढ़ा दी इस घटना को लेकर केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी बताया

हमारे कार्यकर्ताओं की दुखद मृत्यु हुई है। हमारे तीन कार्यकर्ता और ड्राइवर मारा गया है। हम इसके खिलाफ एफआईआर कराएंगे, इसमें शामिल सभी लोगों पर धारा 302 का केस लगाया जाएगा,उन्होंने गाड़ियों को सड़क से नीचे खाई में धक्का दिया। उन्होंने गाड़ियों में आग लगाई, तोड़फोड़ की। मेरा बेटा कार्यक्रम खत्म होने तक वहीं(कार्यक्रम स्थल) था, उन्होंने जिस तरह से घटनाएं की हैं अगर मेरा बेटा वहां(घटनास्थल पर) होता तो वो उसकी भी पीटकर हत्या कर देते
किसानों के बीच छुपे हुए कुछ उपद्रवी तत्वों ने उनकी (भाजपा कार्यकर्ताओं) गाड़ियों पर पथराव किया, लाठी-डंडे से वार करने शुरू किए। फिर उन्हें खींचकर लाठी-डंडों और तलवारों से मारापीटा, इसके वीडियो भी हमारे पास हैं

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ”जो इस अमानवीय नरसंहार को देखकर भी चुप है, वह पहले ही मर चुका है. लेकिन हम इस बलिदान को बेकार नहीं होने देंगे. किसान सत्याग्रह ज़िंदाबाद.”
बसपा प्रमुख मायावती ने कहा -सुप्रीम कोर्ट को ही इस मामले का संज्ञान लेना चाहिए.
अखिलेश यादव ने कहा- भाजपा नेता गाड़ी से चलना छोड़िए, घर से निकल नहीं पाएंगे.

Leave a Reply