CDS जनरल को सम्मान हरिद्वार नगर निगम द्वार बिपिन का नाम

दिल्ली छावनी स्थित बरार स्क्वेयर अंत्येष्टि स्थल पर CDS जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत का शुक्रवार को अंतिम संस्कार किया गया, आज उनकी अस्थियां हरिद्वार में प्रवाहित की जाएंगी CDS जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत पंचत्व में विलीन हो गये,दोनों की अस्थियां आज हरिद्वार की पतित पावनी गंगा नदी में प्रभावित की जाएगी,

इसके साथ ही गंगा की लहरों के साथ CDS जनरल बिपिन रावत का नाम भी अमर हो जाएगा। जनरल रावत की छोटी बेटी तारिणी, छोटे भाई विजय रावत समेत कई लोग अस्थियां लेकर हरिद्वार जाएंगे, इससे पहले तारिणी ने अपनी बड़ी बहन कृतिका के साथ अपने माता-पिता के अंतिम संस्कार से जुड़े अनुष्ठान पूरे किये,

देश ने CDS जनरल बिपिन रावत को अश्रूपूर्ण विदाई दी लेकिन उनके दृढ़ संकल्पों और अमिट योगदान को अक्षुण्य बनाए रखने का संकल्प लिया। जनरल बिपिन रावत उत्तराखंड के वो चमकते सितारे थे, उत्तराखंड के वीर सपूत थे जो देश को नई राह दिखा गये वो असमय चले गये लेकिन उनका नाम लोगों को प्रेरणा देता रहेगा अटल विश्वास और कड़े फैसले लेने की हिम्मत देता रहेगा

हरिद्वार नगर निगम ने भी ऐसा ही कुछ करने की ठानी है मेयर अनीता शर्मा ने ऐलान किया है कि हरिद्वार नगर निगम के मुख्य द्वार का नाम शहीद CDS जनरल बिपिन रावत स्मृति द्वार रखा जाएगा।

 

Documentary film .

Documentary Film on Traditional Culture, rural life Uttarakhand | गांव में दादाजी की बरसी, PART-2

 

इन्हें भी पढ़ें-

अपने घर के मंदिर में पूजा और ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

पहाड़ों की महिलाएं कैसे काम करती-himalayan women lifestyle

सर्दियों में ड्राई स्किन से बचें -10 Tips prevent dry skin

नोनी फल का जूस पीने के 9 फायदे – 9 Benefits of Noni Juice