ऋषिकेश में DRDO ने किया 500 बेड का अस्पताल तैयार, जानिए क्या-क्या खूबियां से लेस है ये अस्पताल

उत्तराखंड: ऋषिकेश आईडीपीएल मैदान में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO)ने बनाया 500 बेड का अस्थायी कोविड केयर सेंटर तेयार हो गया है| जिसका आज शुभारंभ मुख्‍यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने किया।इस कोविड अस्पताल का नाम 1962 युद्ध के नायक रहे राइफलमैन जसवंत सिंह रावत के नाम पर रखा गया है,इस अस्पताल का संचालन एम्स ऋषिकेश की ओर से किया जाएगा।

https://livecultureofindia.com/village-life-blog/drdo-ने-बनाया-500-बेड-का-अस्पताल/

इस अस्पताल में ब्लैक फंगस का भी उपचार किया जाएगा, जिसके लिए सेंटर में एक विशेष कक्ष तैयार किया गया है। कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर को ध्यान में रखते हुए बच्चों के उपचार के लिए भी कोविड केयर सेंटर में एक वार्ड आवश्यक सुविधाओं से युक्त है।

इस कोविड केयर सेंटर के शुरू होने से राज्य के कोरोना मरीजों को काफी राहत मिलेगी। आने वाले कुछ ही समय में 500 बेड का सेंटर हल्द्वानी में भी बनकर तैयार हो जाएगा।

डीआरडीओ को इस कोविड केयर सेंटर अस्पताल को तेयार करने में केवल तीन सप्ताह लगे।मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कम समय में तैयार सुविधाएं से लेस कोविड अस्पताल को बनाने के लिए डीआरडीओ के चीफ डॉ. नारायण दास व एम्स ऋषिकेश के निदेशक प्रो. रविकांत का आभार जताया।

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने बताया सरकार कोविड पर प्रभावी ठंग नियंत्रण करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं में तेजी से वृद्धि की गई है| आज ही श्रीनगर मेडिकल कॉलेज को 30 नये आईसीयू बेड का भी उदघाटनकिया गया हैं हमारे पास राज्य में ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, आईसीयू व ऑक्सीजन बेड की पर्याप्त उपलब्धता है।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस कोविड केयर सेंटर को बनवाने के लिए प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री, का हृदय से आभार व्यक्त किया

कृपया इन्हें भी पड़ें  

सेहत संबंधित 100 जानकारी

पियें एक गिलास गर्म पानी, दूर करे कई परेशानी

कपड़े से बना मास्क MASK कितना बेहतर

अपने घर के मंदिर में पूजा और ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

world oldest religious Temple 

उत्तराखण्ड के पहाड़ी गांव का रहन सहन

सिंपल वेज बिरयानी रेसिपी | Easy Veg Biryani Recipe

चेहरे से मुंहासे हटाए

वीडियो देखें

उत्तराखंड में चक्रव्यूह कैसा होता है Documentary film

Leave a Reply