Kisan Aandolan: किसान आज राज्यपालों को सौंपेंगे ज्ञापन

किसान आंदोलन (Kisan Aandolan) को  7 महीने पूरे हो रहे हैं केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए 3 कृषि कानूनों (Farm Laws) की वापसी की मांग को लेकर दिल्ली में किसान आंदोलन (Kisan Aandolan) में बैठें हुए हैं

दिल्ली में आज (शनिवार) किसानों का मार्च है.आंदोलन के 7 महीने पूरे होने पर किसान ट्रैक्टर रैली निकालेंगे. कई जिलों से गाजीपुर बॉर्डर पर किसान निकालेंगे शनिवार को खेती बचाओ-लोकतंत्र बचाओ दिवस मनाते हुए किसान संगठनों ने राष्ट्रपति तक अपनी बात पहुंचाने का फैसला किया है।
संयुक्त किसान मोर्चा के किसान संगठनों का कहना है किसानों की आवाज अब तक प्रधानमंत्री तक पहुंची है।अब किसान अपनी आवाज राष्ट्रपति तक पहुचाएंगे, राष्ट्रपति भी देश के सर्वोच्च व्यक्ति हैं आज देशभर में राजभवनों के बाहर प्रदर्शन करेंगे और राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपेंगे।

आज शनिवार को देशभर में ‘कृषि बचाओ, लोकतंत्र बचाओ’ दिवस मनाएंगे। अपने निर्धारित कार्यक्रम के तहत किसान देश के सभी राज्यों के राजभवन पर धरना-प्रदर्शन करेंगे।और राजभवन तक रोष मार्च शुरू किया करेंगे, हमारा प्रदर्शन शांतिपूर्ण होगा।

भाकियू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत का कहना है कि देश का किसान कमजोर नहीं है। बीच के रास्ते हमेशा खुले हुए हैं, पर सरकार को अपनी जिद छोड़नी होगी। कृषि मंत्री को यदि सरकार उन्हें अधिकार दिए जाएं तो फैसला हो जाएगा।

राहुल गांधी ने किसानों का समर्थन किया है। राहुल गांधी ने आज ट्वीट किया- ‘सीधी-सीधी बात है- हम सत्याग्रही अन्नदाता के साथ हैं।’

Kisan Andolan आन्दोलन के चलते (DMRC) दिल्ली मेट्रो ने शुक्रवार रात को ट्वीट किया, ‘दिल्ली पुलिस के सुझाव पर सुरक्षा की दृष्टि से येलो लाइन पर तीन मेट्रो स्टेशन- विश्वविद्यालय, सिविल लाइन्स और विधानसभा, कल (शनिवार) 26.06.2021 को जनता के लिए सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक बंद रहेंगे.

उ.प्र: किसान आंदोलन के 7 महीने पूरे होने पर किसानों ने लखनऊ में विरोध-प्रदर्शन किया।किसान नेता राजेश सिंह चौहान ने बताया,”1साल से देश में अघोषित आपातकाल लगा है इसके विरोध में हम आज राज्यपाल के जरिए राष्ट्रपति जी को ज्ञापन सौंपेंगे क्योंकि किसानों का गेहूं मंडियों में सड़ रहा है।