New Delhi AIIMS के 67वें स्‍थापना दिवस समारोह की डॉ. भारती प्रवीण पावर ने की अध्यक्षता

केन्‍द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार ने कहा, “भारत की स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली ने न केवल नैदानिक ​​और प्रबंधन सुविधाएं प्रदान करने में बल्कि मृत्यु दर को कम करने और अधिकतम स्‍वास्‍थ्‍य लाभ में भी दक्षता दिखाई है।” डा. पवार ने New Delhi AIIMS ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस, नई दिल्ली के 67 वें स्‍थापना दिवस समारोह की अध्‍यक्षता करते हुए यह बात कही।

डॉ. भारती प्रवीण पावर ने अनुसंधान श्रेणी में एम्‍स की रैंकिंग शीर्ष 10 शैक्षिक संस्थानों में होने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने यह भी कहा कि यह एकमात्र संस्थान है जो अनुसंधान के अलावा रोगी देखभाल करता है। उन्होंने सराहना की कि यह बहुत गर्व की बात है कि लगातार पांचवें वर्ष, एम्‍स, नई दिल्ली को शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा जारी किए गए राष्ट्रीय संस्थान रैंकिंग फ्रेमवर्क (एनआईआरएफ) के अनुसार चिकित्सा संस्थानों में पहला स्थान दिया गया है। उन्होंने अधिकारियों से आने वाले वर्षों में रैंकिंग को बनाए रखने का आग्रह किया।

इन्हें भी पढ़ें

Navratri 2022 जानें नवरात्रि का महत्व,शुभ योग, घटस्थापना मुहूर्त, पूजा विधि

Homemade face pack: घर में इन 3 चीजों से चुटकियों में बनाइए ये फेसपैक

 moongphali khane ke fayde | Amazing benefits of peanuts

लौंग के फायदे in Hindi | 14 Benefits Of Cloves

झटपट 5 मिनट में दही चटनी रेसिपी

नारियल की पूजा क्यों की जाती

आपके किचन में पाचन के लिए ये हैं ये 3 सुपरफूड, डाइट में जरूर करें शामिल रहें हेल्दी

उन्होंने कहा, “सफल होना एक यात्रा से अधिक है, एक गंतव्य नहीं। हमें न केवल उच्च मानकों को बनाए रखने के लिए, बल्कि नई विशेष उपलब्धियां हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी और इन्‍हें हासिल करने के लिए प्रयास करना होगा। मजबूत और स्वस्थ भारत का निर्माण करने के लिए, एम्स नई दिल्ली ज्ञान के अपने भंडार के साथ अन्य अन्य उत्कृष्ट संस्थानों के साथ आगे बढ़ेगा। जब हम समग्र स्वास्थ्य और समावेशी पहुंच की बात करते हैं, तो हम इसमें तीन कारकों को शामिल करते हैं। सबसे पहले, आधुनिक चिकित्सा विज्ञान से संबंधित बुनियादी ढांचा और मानव संसाधनों का विस्तार। दूसरा, चिकित्‍सा की पारंपरिक भारतीय प्रणाली में अनुसंधान को बढ़ावा देना और स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल प्रणाली में इसका सक्रिय रूप से जुड़ना तथा तीसरा आधुनिक और भविष्य की तकनीक के माध्यम से हर व्यक्ति और देश के हर हिस्से को बेहतर और सस्ती स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान करना।”

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के गतिशील नेतृत्व में केन्‍द्र सरकार का निवारक देखभाल पर जोर देने के साथ समग्र रूप से काम करना है, जबकि तृतीयक स्वास्थ्य सेवा को प्राथमिकता देते हुए। प्रयास गरीबों के इलाज की लागत को कम करने के लिए हैं और साथ ही, डॉक्टरों की संख्या में तेजी से बढ़ने पर भी, उन्होंने कहा।
डॉ भारती प्रवीण पवार ने “एम्स टुडे एंड विजन फॉर 2047” थीम पर एम्स में आयोजित प्रदर्शनी का दौरा किया और उल्लेखनीय योगदान के लिए कर्मचारियों को सम्मानित किया। इस अवसर पर डॉ. एम श्रीनिवास, निदेशक एम्स नई दिल्ली और संकाय सदस्य भी उपस्थित थे।

Documentary film

पहाड़ी रीति रिवाज Documentary Film on Traditional Culture, गांव में दादाजी की बरसी, PART-1

उत्तराखंड में दिवाली कैसे मनाते हैं | Uttarakhand village Documentary PART-1