Yoga Day 2021: बोले पीएम मोदी, कोरोना काल में योग बना आत्मबल का बड़ा माध्यम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 7वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (Yoga Day 2021)पर देश को संबोधित किया और कहा जब कोरोना के अदृष्य वायरस ने दुनिया में दस्तक दी थी, तब कोई भी देश, साधनों से, सामर्थ्य से और मानसिक अवस्था से, इसके लिए तैयार नहीं था।हम सभी ने देखा है कि ऐसे कठिन समय में, योग आत्मबल का एक बड़ा माध्यम बना

आज जब पूरा विश्व कोरोना महामारी का मुकाबला कर रहा है, तो योग उम्मीद की एक किरण बना हुआ है।दो वर्ष से दुनिया भर के देशो में और भारत में भले ही बड़ा सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं हुआ हों लेकिन योग दिवस के प्रति उत्साह कम नहीं हुआ है

दुनिया के अधिकांश देशों के लिए योग दिवस कोई उनका सदियों पुराना सांस्कृतिक पर्व नहीं है।इस मुश्किल समय में, इतनी परेशानी में लोग इसे भूल सकते थे, इसकी उपेक्षा कर सकते थे।लेकिन इसके विपरीत, लोगों में योग का उत्साह बढ़ा है, योग से प्रेम बढ़ा है

भारत के ऋषियों ने, भारत ने जब भी स्वास्थ्य की बात की है, तो इसका मतलब केवल शारीरिक स्वास्थ्य नहीं रहा है।इसीलिए, योग में फ़िज़िकल हेल्थ के साथ साथ मेंटल हेल्थ पर इतना ज़ोर दिया गया है

योग हमें स्ट्रेस से स्ट्रेंथ और नेगेटिविटी से क्रिएटिविटी का रास्ता दिखाता है। योग हमें अवसाद से उमंग और प्रमाद से प्रसाद तक ले जाता हैअब विश्व को, M-Yoga ऐप की शक्ति मिलने जा रही है।

इस ऐप में कॉमन योग प्रोटोकॉल के आधार पर योग प्रशिक्षण के कई विडियोज दुनिया की अलग अलग भाषाओं में उपलब्ध होंगे,जब भारत ने यूनाइटेड नेशंस में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का प्रस्ताव रखा था, तो उसके पीछे यही भावना थी कि ये योग विज्ञान पूरे विश्व के लिए सुलभ हो।आज इस दिशा में भारत ने यूनाइटेड नेशंस, WHO के साथ मिलकर एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है

आज 7वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कहा- ‘आज जब पूरा विश्व कोरोना महामारी का मुकाबला कर रहा है, तो योग उम्मीद की एक किरण बना हुआ है।’ पीएम मोदी ने कहा कि दो वर्ष से दुनिया भर के देशो में और भारत में भले ही बड़ा सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं हुआ हों, लेकिन योग दिवस के प्रति उत्साह कम नहीं हुआ है।

लोगों में योग का उत्साह बढ़ा है, योग से प्रेम बढ़ा है। योग दिवस के प्रति उत्साह कम नहीं हुआ है।

7वें International Day of Yoga एक कार्यक्रम जापान के प्रतिष्ठित टोक्यो स्काईट्री में आयोजित किया गया था, जो दुनिया का सबसे ऊंचा टावर है। कार्यक्रम में माननीय सांसदों श्री हकुबुन शिमोमुरा और संसदीय लीग के अन्य सदस्यों सहित गणमान्य व्यक्तियों ने भाग लिया।

https://livecultureofindia.com/national-राष्ट्रीय-news/yoga-day-2021/

कोरोना काल के दौरान भी देश में योग कार्यक्रमों की अलग अलग तस्वीरें आ रही हैं। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ Delhi NCR गाजियाबाद के इंदिरापुरम के रानी अवंती बाई पार्क में महिलयें भी योगा करते हुए दिखाई दिए,

 https://livecultureofindia.com/national-राष्ट्रीय-news/yoga-day-2021/

वहीं अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के जवानों ने शून्य से भी नीचे तापमान और 18,000 फीट की ऊंचाई पर योग किया,जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ जवानों ने योग किया।

 https://livecultureofindia.com/national-राष्ट्रीय-news/yoga-day-2021/

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस योगा सभी के लिए शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। योग के महत्व को समझते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में इस दिन को सेलिब्रेट करने की पहल की थी,

21 जून को संयुक्त राष्ट्र में 177 सदस्यों द्वारा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को मनाने का प्रस्ताव रखा गया था,उसके बाद 21 जून को ”अंतरराष्ट्रीय योग दिवस” (International Yoga Day 2021) घोषित किया गया

पहली बार यह दिवस 21 जून 2015 को मनाया गया उसके बाद से हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस” (International Yoga Day)मनाया जाता है

वीडियो देखें

traditional culture documentary film

कृपया इन्हें भी पड़ें

तांबे के बर्तन का पानी पीने के 7 फायदे | Benefits of drinking copper pot water

उखीमठ ओमकारेश्वर मंदिर रुद्रप्रयाग | Ukhimath Omkareshwar Temple

दुनिया के सात अजूबे | Waste To Wonder Park In Delhi

अपने घर के मंदिर में पूजा और ध्यान रखने वाली जरूरी बातें

पहाड़ों की खुबसूरत इगास बग्वाल ( दिवाली )

Homemade facials | घर पर तैयार करें फेशियल

Leave a Reply