hill market kedarnath road tilwara uttrakhand

hill market tilwara uttrakhand

रुद्रप्रयाग।मंदाकनी के तट पर बसा तिलवाड़ा बाजार(hill market tilwara) चारधाम यात्रा का मुख्य पड़ाव है ।यहाँ से केदारनाथ, kedarnath ,गगोत्री, यमनोत्री धामो को जाया जाता है ।यहा पर देश विदेश से आने वाले  पर्यटकों व श्रदालुओ के लिए रहने व खाना की उचित व्यवस्थाएं है।

स्थानीय लोगो के द्वारा बड़े बड़े होटल बना रखे है ।जिनमे 12 महीनों पर्यटक आते रहते है । hill market तिलवाड़ा बाजार बिभिन्न पट्टियों का मुख्य बाजार है ।जिनमे सिलगढ़  ,फुटगढ़ ,बांगर ,लस्या, बडमा भरदार के 5000 हजार लोगों का प्रतिदिन आना जाना होता है।

जिसको देखते हुए तिलवाड़ा बाजार को मिनी मंडी के रूप में भी कहा जाता है तिलवाड़ा बाजार सुमाड़ी व तिलवाड़ा के गांवों को मिलकर बनाया गया है।मुख्यत तिलवाड़ा बाजार छतोली मठियाना गीड के लोगो के जमीन पर बना है ।

 https://livecultureofindia.com/hill-market-tilwara-uttrakhand.html
tilwara uttrakhand

आज hill market तिलवाड़ा बाजार को वर्ष 2017 में नगरपंचायत का दर्जा दिया गया है जिसका सीमांकन 5 किलोमीटर के दायरे में किया गया है ।

बात करे धार्मिक स्थलों की तो सुमाड़ी बाजार में लस्तर मंदाकनी नदी के संगम के समीप तिरपुरेडवर महादेव का मंदिर है जो लोगो के अपार आस्था का प्रतीक है ।यहाँ पर हर सोमवार व शनिवार को श्रदालुओ का तांता लगा रहता है ।सावन व माघ महीना पर भंडारे लगाए जाते है,

कृपया इन्हें भी पढ़ें और वीडियो भी देखें

मक्कू मठ बाबा तुंगनाथ जी का शीतकालीन गद्दीस्थल

पहाड़ों की महिलाएं कैसे काम करती-himalayan women lifestyle

दीपावली पूजन में 10 बातों का रखें ध्यान घर में होगी महालक्ष्मी की कृपा

बाबा तुंगनाथ यात्रा विडियो देखें

A beautiful hill station चोपता दुर्गाधार

 https://livecultureofindia.com/hill-market-tilwara-uttrakhand.html

केदारखण्ड में भी तिरपुरेश्वर महादेव का वर्णन किया हुआ है ।जो भी व्यक्ति भोले की आराधना करेगा उसकी इच्छाये पूर्ण होगी ।तिलवाड़ा बाजार hill market को सनातन काल से ही यात्रा का पड़ाव भी कहा जाता है

जो पहले पैदल चलने वाले यात्रियों के रुकने का स्थान मात्र था ।लेकिन आज बदलती परस्थिति में तिलवाड़ा चारो धामो के मुख्यपडाव के साथ लोगो की आवश्यकताओं का केंद्र बिंदु है।

सुनील जमलोकी

hill market tilwara की विडियो देखें