Rudraprayag Uttarakhand india | रुद्रप्रयाग गढ़वाल उत्तराखंड

 Rudraprayag Uttarakhand

उत्तराखंड के पंचप्रयागों में से एक “रुद्रप्रयाग” Rudraprayag Uttarakhand   एक प्रयाग है जिसका अपना महत्व है| रुद्रप्रयाग जिला 16 सितंबर, 1997 को अस्तित्व में आया[ रूद्रप्रयाग अलकनंदा और मंदाकिनी नदी पर स्थित है।

यहाँ पर अलकनंदा तथा मंदाकिनी नदियों का संगमस्थल है। केदारनाथ धाम की ओर से आती मंदाकनी और दूसरी ओर बद्रीनाथसे आती अलकनंदा इस स्थान में मिलती है |

 https://livecultureofindia.com/rudraprayag-kedarkhand-uttarakhand/ ‎

Rudraprayag यहाँ से अलकनंदा देवप्रयाग में जाकर भागीरथी से मिलती है तथा गंगा नदी का निर्माण करती है। भगवान शिव  के नाम पर रूद्रप्रयाग का नाम रखा गया है। भगवान शिव Lord Shiva को “रूद्र” नाम से भी संबोधित किया जाता था | इसलिए “रूद्र” नाम से इस संगम का नाम “रुद्रप्रयाग” रखा गया है |

अलकनंदा व मन्दाकिनी नदियों के संगम पर भगवान रूद्रनाथ का प्राचीन मंदिर भी स्थित है | केदारनाथ भी रुद्रप्रयाग जनपद में स्थित है | प्रसिद्ध धर्मस्थल “केदारनाथ धाम” रुद्रप्रयाग से लगभग76 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है |रुद्रप्रयाग की पौराणिक मान्यताये-Mythological beliefs of Rudraprayag

 https://livecultureofindia.com/rudraprayag-kedarkhand-uttarakhand/

केदारखंड के अनुसार रुद्रप्रयाग Rudraprayag में महर्षि नारद ने भगवान शिव की एक पाँव पर खड़े होकर उपासना की थी और उनकी उपासना से प्रसन्न होकर भगवान शिव ने महर्षि नारद को रूद्र रूप में दर्शन दिए

और महर्षि नारद ने रूद्र रूप में भगवान शिव से संगीत की शिक्षा ली एवम् भगवान शिव ने उन्हें वीणा प्रदान करी | और कहा जाता है कि तभी से इस जगह को “रुद्रप्रयाग” कहा जाने लगा
मंदाकिनी और अलखनंदा नदियों का संगम अपने आप में एक अनोखी ख़ूबसूरती है।
यहाँ स्थित शिव और जगदम्‍बा मंदिर प्रमुख धार्मिक स्‍थानों में से है।

कृपया हमारा यह ब्लॉग और वीडियो भी देखें

यहाँ नजदीक ही कोटेश्वर महादेव का मंदिर है|

उत्तराखण्ड के पहाड़ी गांव का रहन सहन और अब

आयुर्वेद केअनुसार लें आहार वात पित्त कफ

पहाड़ों का लाजवाब आटे वाला दूध का हलवा

चेहरे से मुंहासे हटाए

दीपक जलाने के सही नियम

Rudraprayag कैसे पहुंचें

हवाई अड्डा
सबसे नजदीकी एयरपोर्ट जोलीग्रांड (देहरादून) है। जो क‍ि रूद्रप्रयाग से 159 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

रेलवे मार्ग
सबसे नजदीकी रेलवे स्‍टेशन ऋषिकेश है। ऋषिकेश से रूद्रप्रयाग 152 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

सड़क मार्ग
कई महत्‍वपूर्ण मार्ग  रुद्रप्रयाग से जुड़े हुए हैं। जहां से रोजाना रूद्रप्रयाग के लिए बसें चलती है। जैसे- देहरादून, ऋषिकेश, कोटद्वार, पौढ़ी, जोशीमठ, गोपेश्‍वर, बद्रीनाथ, केदारनाथ, नैनीताल, अल्‍मोड़ा, दिल्‍ली।

कृपया रुद्रप्रयाग से संबंधित हमारी पूरी वीडियो नीचे देखें

                    Please see our full video related to Rudraprayag.

 

One thought on “Rudraprayag Uttarakhand india | रुद्रप्रयाग गढ़वाल उत्तराखंड

  • June 3, 2020 at 2:30 am
    Permalink

    सुंदर ब्लोग

Comments are closed.