अफगान सैनिक मोर्चा छोड़कर भागे, तालिबान का अफगानिस्तान के कई जिलों पर कब्जा

अफगानिस्तान (Afghanistan) बताया जा रहा है 11 सितंबर तक अमेरिकी सेना का अफगानिस्तान से पूरी तरह वापसी होजाएगी,अमेरिकी सेना का वापस होने के साथ ही तालिबान (Taliban)एक के बाद एक जिलों पर कब्जा कर रहा है.

अफगान सुरक्षा बल के जवानों को ताजिकिस्तान भागना पड़ा है.ताजिकिस्तान पड़ोसी होने के नाते अफगान सुरक्षा बलों को ताजिकिस्तान आने की इजाजत दी गई,

 https://livecultureofindia.com/world-news/तालिबान-का-अफगानिस्तान/

तालिबानीयों ने अफगानिस्तान के 419 में से 140 से अधिक जिलों पर कब्जा करने का दावा किया है और तालिबानी नियम-कानूनों को लागू कर दिया गया है. तालिबानीयों ने महिलाओं को सख्त सक्क्त फरमान सुनाया है कि वो घर से कहीं अकेले न निकलें. और पुरुषों को दाढ़ी रखना अनिवार्य कर दिया है पुरुष दाढ़ी नहीं कटवा सकते है.

इन्हें भी पढ़ें- नहीं रहे 38 बीवियों 89 बच्चों वाले जियोना चाना

अफगानिस्तान में तालिबानी कब्जे वाले इलाकों में लड़कियों के लिए दहेज देने पर भी नए नियम बनाये गये हैं स्कूल, क्लीनिक बंद कर दिए गए हैं तालिबानीयों ने बिना सबूत के मुकदमे चलाने शुरू कर दिए हैं,लगभग वहन से 50 हजार से ज्यादा अफगान नागरिक देश छोड़कर जाना चाहते हैं जो पड़ोसी देशों में शरण लेने की प्लानिंग बना रहे है, मध्य एशिया के तीन देशों- कजाखस्तान, और उज्बेकिस्तान से इस मामले पर बातचीत चल रही है.

अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना ने करीब 20 साल के बाद बगराम एयरफील्ड को छोड़ दिया है जो 9/11 में हुए आतकंवादी हमले के जिम्मेदार अल-कायदा के साजिशकर्ताओं की धर-पकड़ के लिए अमेरिकी सेना का मुक्या केंद्र रहा था.अफगानिस्तान में बीते दो दशक तक चले युद्ध के बाद अमेरिका और नाटो देशों के सैनिक यहां से वापस जा रहे हैं. अमेरिका ने इसकी समयसीमा 11 सितंबर रखी है.

इन्हें भी पढ़ सकते हैं

एलोवेरा जेल का चेहरे और बालों पर उपयोग

नोनी जूस के 9 फायदे – 9 Benefits of Noni Juice

dal dhokli recipe | दाल ढोकली रेसिपी

वीडियो भी देखें 

Uttarakhand Himalayan life style

Leave a Reply