ओली का इस्तीफा, शेर बहादुर देउबा 5वीं बार बने नेपाल के प्रधानमंत्री

नेपाल सियासी उठापठक के बीच मंगलवार को शेर बहादुर देउबा पांचवीं बार नेपाल के प्रधानमंत्री नियुक्त हुए.नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष देउबा की नियुक्ति पर सर्वोच्च अदालत ने मुहर लगाई, नेपाल की सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि 28 घंटे में शेर बहादुर देउबा को अगला प्रधानमंत्री नियुक्त कर दिया जाए.

उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने कहा था कि प्रधानमंत्री के पद पर ओली का दावा असंवैधानिक है. देउबा पांचवीं बार देश के प्रधानमंत्री नियुक्त हुए.नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष देउबा की नियुक्ति पर सर्वोच्च अदालत ने मुहर लगाई,

इन्हें भी पढ़ें-

Mouth ulcers मुंह के छालों का घरेलू 9 उपाय जरुर आजमायें

एलोवेरा जेल का चेहरे और बालों पर उपयोग

सिंपल वेज बिरयानी रेसिपी | Easy Veg Biryani Recipe

उत्तराखंड गांव की सांस्कृतिक परंपरा चक्रव्यूह

पितर कौन होते हैं और तर्पण किन को दिया जाता जाने

राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी ने संविधान के अनुच्छेद 76(5) के तहत उन्हें प्रधानमंत्री नियुक्त किया. यह पांचवीं बार है, जब देउबा (74) ने नेपाल के प्रधानमंत्री के तौर पर सत्ता में वापसी की है.

नेपाल में सियासी संकट 20 दिसंबर को तब घिर गया था,जब वर्चस्व को लेकर सत्ताधारी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी (एनसीपी) में खींचतान मची थी प्रधानमंत्री ओली की अनुशंसा पर राष्ट्रपति भंडारी ने संसद के निचले सदन को भंग कर दिया था और 30 अप्रैल तथा 10 मई को नए चुनाव कराने की घोषणा की थी,

नेपाल के नये प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा को संवैधानिक प्रावधान के तहत 30 दिनों के भीतर सदन में विश्वास मत हासिल करना होगा

Documentary film

Himalayan women lifestyle Uttarakhand

Leave a Reply