डॉलर की ऊंची उड़ान पाकिस्तानी करेंसी धड़ाम

पाकिस्तान में कमरतोड़ महंगाई के बीच डॉलर के मुकाबले पाकिस्तानी करेंसी रुपये का गिरना लगातार जारी है| जिससे इमरान सरकार की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है, बढ़ती महंगाई और ख़ाली होता विदेशी मुद्रा भंडार कंगाल होते पाकिस्तान की कहानी बयां कर रहा है,

जिसके लिए इमरान सरकार खुद जिम्मेदार हैं दूसरे देशों से मिली सहायता राशी को आतंकी संगठनों में बांटने का ही नतीजा है कि पाकिस्तान का रुपया डॉलर के मुकाबले रिकॉर्ड स्तर पर कमज़ोर होता जा रहा है

रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तानी रुपया 0.06% की गिरावट, एक डॉलर की कीमत 177.71 पाकिस्तानी करेंसी हुई ,एक्सपर्ट के मुताबिक जुलाई 2022 तक पाकिस्तानी रुपया डॉलर के मुक़ाबले 180-185 तक गिर जाएगा इस बीच पाकिस्तानी आवाम के आर्थिक हालात इतने बिगड़ गए हैं लोगों में पेट्रोल खरीदने की क्षमता तक नहीं बची है।