पाकिस्तान ने डर से अफगानिस्तान से लगी अपनी सीमा पर तैनात की सेना

अफगानिस्तान से जब से अमेरिकी सैनिकों की वापसी हुई अफगानिस्‍तान में तालिबान का नियंत्रण बढ़ता जा रहा है इससे पहले तालिबान ने दावा किया कि अफगानिस्‍तान के 85 फीसदी हिस्‍से पर उसका नियंत्रण हो चुका है. इसी बीच खबर आई कि अफगानिस्तान में तालिबान हमलों को खदेड़ने के लिए अमेरिका ने फिर हवाई हमले शुरू किए

शनिवार को मीडिया में आई खबरों में पाकिस्तान ने अफगानिस्तान से लगती पर सेना के जवानों की तैनाती की है पाकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच 2,640 किलोमीटर लंबी सीमा है बलूचिस्तान और अन्य मिलिशिया को सीमा पर गश्त के कार्य से वापस बुला लिया गया है अपनी सीमा की अग्रिम चौकियों पर सेना के जवानों की तैनाती की है

जवानों की तैनाती को लेकर पाकिस्तान ने बताया तालिबान से लड़ाई करने से बचने के लिए एक हजार से अधिक अफगान सैनिक तजाकिस्तान भाग गए. ऐसे में अगर अफगान सैनिक भागकर हमारी सीमा में आते हैं तो, तालिबान भी उनका पीछा करते हुए आएगा और इस तरह यह लड़ाई पाकिस्तानी इलाके में भी फैल जाएगी सीमा पर तनावपूर्ण स्थिति उत्पन्न होने के मद्देनजर सैनिकों की तैनाती की गयी है इस से अफगानिस्तान की जमीन और हवा में चल रही लड़ाई को पाकिस्तान की ओर आने से रोकने में मदद मिलेगी.